Har Bar Mere Samne Aati Rahi Ho Tum

Har Bar Mere Samne Aati Rahi Ho Tum,
har bar tum se mil ke bichhadta raha hun main…!!
tum kaun ho ye khud bhi nahi zanti ho tum,
main kaun hun ye khud bhi nahi zanta hun main…!!

हर बार मेरे सामने आती रही हो तुम,
हर बार तुम से मिल के बिछड़ता रहा हूँ मैं…!!
तुम कौन हो ये खुद भी नहीं जानती हो तुम,
मैं कौन हूँ ये खुद भी नहीं जानता हूँ मैं…!!